India's Largest Free Online Education Platform

Class 7 sanskrit chapter 13 अमृतम् संस्कृतम्

Class 7 sanskrit chapter 13 अमृतम् संस्कृतम् पाठ में हम लोग संस्कृत भाषा के गुणगान या फिर महत्वता के बारे में पढ़ने वाले हैं | तो चलिए इस पाठ में क्या है ? exactly उसी को ही ली पढ़ लेते हैं –

Class 7 sanskrit chapter 13 अमृतम् संस्कृतम्Class 7 sanskrit chapter 13 अमृतम् संस्कृतम्Class 7 sanskrit chapter 13 अमृतम् संस्कृतम्Class 7 sanskrit chapter 13 अमृतम् संस्कृतम्Class 7 sanskrit chapter 13 अमृतम् संस्कृतम्Class 7 sanskrit chapter 13 अमृतम् संस्कृतम्

 

Download PDF (Class 7 sanskrit chapter 13 अमृतम् संस्कृतम्) in only one click ….click here

 

Class 7 sanskrit chapter 13 अमृतम् संस्कृतम् Hindi Summary

संस्कृत भाषा संसार की सभी भाषाओं में पुरानी भाषा है | यह भाषा कई भाषाओं की माता मानी गई है | इस भाषा में पुराने ज्ञान और विज्ञान का खजाना छुपा है | संस्कृत के महत्व के बारे में किसी ने बताया है कि भारत की दो प्रतिष्ठा हैं – संस्कृत तथा संस्कृति |

कुछ लोग कहते हैं यह भाषा बहुत ज्यादा वैज्ञानिक भाषा है | यह भाषा कंप्यूटर के लिए सबसे अच्छी भाषा है | इस भाषा का उपयोग साहित्यो, वेदों, पुराणों, नीतिशास्त्रों तथा चिकित्साशास्त्रों में किया गया है | कालिदास और विश्व के अनेक कवियों के काव्य का सौंदर्य संस्कृत भाषा में ही देखने को मिलता है | कौटिल्य के द्वारा रची गई अर्थशास्त्र भी संस्कृत में ही है |

गणित शास्त्र में शून्य को पहली बार आचार्य आर्यभट्ट ने लाया | वहीं दूसरी तरफ चिकित्सा शास्त्र में महर्षि चरक और सुश्रुत का योगदान भी विश्व में प्रसिद्ध है | संस्कृत भाषा में कुछ अन्य शास्त्र भी विद्यमान हैं, जो इस प्रकार हैं- वास्तु शास्त्र, रसायनशास्त्र, अंतरिक्ष विज्ञान, ज्योतिष शास्त्र तथा विमानशास्त्र इत्यादि | संस्कृत भाषा ही एक ऐसी सुंदर भाषा है जो मनुष्य को उसके कल्याण के लिए प्रेरित करती है | जैसे सत्य की हमेशा जीत होती है , पूरी पृथ्वी एक परिवार है… इत्यादि-इत्यादि |संस्कृत भाषा हमें सभी प्राणियों के साथ समान व्यवहार करने के लिए प्रेरित करती है|

कुछ लोगों का मानना है कि संस्कृत भाषा में केवल धार्मिक ग्रंथ लिखे गए हैं | जबकि ऐसा नहीं है | संस्कृत ग्रंथों में मानव जीवन के लिए बहुत सारे विषय शामिल हैं , जैसे कि महापुरुषों की बुद्धि, अच्छे लोगों का धैर्य और सामान्य लोगों के रहने-सहने की विधि | हमें संस्कृत अवश्य पढ़नी चाहिए जिससे कि हमारा और हमारे समाज का सुधार हो सके | इसलिए कहा गया है – मित्र! संस्कृत अमृत है ,रसयुक्त वाणी है, सभी भाषाओं में आदरणीय है और ज्ञान-विज्ञान की पोषक है |

 

Class 7 sanskrit chapter 13 अमृतम् संस्कृतम् English Summary

Sanskrit language is the old language in all languages ​​of the world. This language has been considered as the mother of many languages. In this language the treasure of old knowledge and science is hidden. Someone has told about the importance of Sanskrit that India has two reputations – Sanskrit and culture.

Some people say this language is too much scientific language. This language is the best language for computer. This language has been used in literature, Vedas, Puranas, Ethics and Medicine. The poetry of many poets of Kalidas and the world is found only in Sanskrit language. Economics created by Kautilya is also in Sanskrit.

In mathematical science, Acharya Aryabhatta was brought to Zero for the first time. On the other hand, the contribution of Maharishi Charak and Sushrut in medical science is also famous in the world. There are some other scriptures in Sanskrit language which are as follows – Vastu Shastra, Chemistry, Space Science, Astrology and Aviation etc. Sanskrit language is such a beautiful language that inspires a person for his welfare. As truth always prevails, the whole earth is a family … etc .. etc. Sanskrit language inspires us to behave equally with all beings.

Some people believe that only religious texts have been written in Sanskrit language. While this is not so. Sanskrit texts contain many topics for human life, such as the wisdom of great men, patience of good people and the way of living and living of ordinary people. We must study Sanskrit so that our society and our society can be improved. That’s why – Friends! Sanskrit is the elixir, it is rude speech, is respected in all languages ​​and is the nutrition of knowledge science.

Watch video Class 7 sanskrit chapter 13 अमृतम् संस्कृतम्

8 Comments

  1. Aap Bahut Achha padhate hain.. Saral shabdon mein Samajh aata hai.. Hume bahut help mili.. Thank you.. Best of luck.. ☺

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!