India's Largest Free Online Education Platform

Sanskrit class 8 chapter 4 – सदैव पुरतो निधेहि चरणम्

Sanskrit class 8 chapter 4 – सदैव पुरतो निधेहि चरणम् – यह पाठ एक गीत है जो श्रीधर भास्कर वर्णेकर के द्वारा रचित है इस गीत में उन्होंने हमेशा आगे बढ़ते रहने के लिए कर्मठता का संदेश देना चाहा है वह एक राष्ट्रवादी कवि थे | तो चलिए इस क्लास 8 के चैप्टर में एग्जैक्ट ली क्या हुआ है इसको जान लेते हैं –

 This lesson is a song written by Shridhar Bhaskar Varnekar. In this song, he always wanted to give a message of work to keep going, he was a nationalist poet.
So let us know what happened in the chapter.

Sanskrit class 8 chapter 4Sanskrit class 8 chapter 4Sanskrit class 8 chapter 4 - सदैव पुरतो निधेहि चरणम्

sanskrit class 8 chapter 4 hindi translation

 

Exercise:

Sanskrit class 8 chapter 4 सदैव पुरतो निधेहि चरणम्           Download pdf 

 Sanskrit class 8 chapter 4 – सदैव पुरतो निधेहि चरणम् – Chapter Summary                                                     Hindi translation

पहले चौपाई में कहा गया है-
हे मनुष्य चलो, तुम हमेशा आगे बढ़ते चलो, मार्ग में चाहे कैसी भी कठिनाइयां आए उन्हें पारकर आगे बढ़ते रहो, हमारा घर हो सकता है कि पर्वत की चोटी पर हो , फिर भी बिना रुके बिना सवारी के अपने बल से सदा आगे कदम बढ़ाते रहो |

दूसरे चौपाई में कहा गया है-

अरे मनुष्य तुम्हारे रास्ते में अनेक उबड़-खाबड़ तथा तीक्ष्ण पत्थर आएंगे फिर भी तू आगे बढ़ते रहना चारों और भयंकर तथा हिंसक पशु भी मिलेंगे इन कारणों से अपने घर यानी पर्वत की चोटी पर जाना निश्चय ही मुश्किल है |
फिर भी तुम सदा कदम आगे बढ़ाते रहना |

तीसरे चौपाई में कहा गया है-
हे मनुष्य तुम्हें अपने डर को त्याग देना चाहिए, तथा शक्ति से काम लेना चाहिए | तुम्हें अपने देश से बहुत प्यार करना चाहिए और अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए अपने कदम सदा आगे बढ़ाते रहना चाहिए |

Sanskrit class 8 chapter 4 – सदैव पुरतो निधेहि चरणम् – Chapter Summary English Translation

First quadruple has been said-

O man, let’s go ahead, whatever difficulties come in the way, keep moving forward and keep moving forward, our house may be on the top of the mountain, still continue to move ahead with your force without stopping.

The second chaupaI has been said-

There will be many raucous and sharp stones in your way. Even though you will continue to go ahead, you will find four more dangerous and violent animals. It is difficult to go to the top of your house, ie mountaintop. Still, you keep going on forever.

The third quarter says- 

O man, you should give up your fear, and work with power. You must love your country a lot and you should continue to move your steps to achieve your goal.

10 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!